बोर्ड परीक्षा – अब STF कसेगी नकल पर नकेल

0
88
हालांकि stf और पुलिस के नजर रखने के आदेश तो सरकार पहले ही पारित कर चुकी है लेकिन अब शासन के राडार पर वे जानेमाने सेंटर है जो ठेके पर नकल कराने के लिए नकलचियों द्वारा जाने व पूजे जाते है, तभी तो परीक्षार्थियों को एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के नकल अध्यादेश का जमाना नजर आने लगा है

जिले में यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए 92 विद्यालय केंद्र बनाए गए हैं। परीक्षा केंद्रों पर नकल न हो सके, इस लिए शासन ने कई कदम उठाए हैं। पहले केंद्रों का निर्धारण माध्यमिक शिक्षा परिषद ने खुद किया। इसके बाद भी दो ऐसे विद्यालय परीक्षा केंद्र बनाए गए, जिन पर पिछले वर्ष नकल पकड़ी गई थी। कापियों की अदला-बदली न हो सके लिए इसके लिए जनपद में विशेष कोड वाली उत्तर पुस्तिकाएं भेजी गईं हैं।

शिक्षा मंत्री श्री शर्मा ने जिलाधिकारी व विद्यालय निरीक्षक को वीडियो कॉन्फ्रेंस में निर्देश दिए हैं कि नकल रोकने के लिए वह जिलाधिकारी के साथ बैठक कर पहले ही खुद ही पुख्ता इंतजाम करें। उड़नदस्तों व मजिस्ट्रेटों की तैनाती करा लें। साथ ही प्रत्येक केंद्र पर फोर्स का भी इंतजाम रहना चाहिए। इसके अलावा शिक्षामंत्री खुद कभी भी किसी भी केंद्र का निरीक्षण कर सकते हैं।

जानकारी देते हुए शिक्षा मंत्री ने बताया कि एसटीएफ को भी लगाया जाएगा। वह भी परीक्षा केंद्रों पर नजर रखेगी। यदि उसे कहीं भी नकल होने की सूचना मिलेगी, तो वह कभी भी किसी भी केंद्र पर छापेमारी कर सकती है। यदि केंद्र पर नकल पकड़ी जाती है तो कक्ष निरीक्षक व केंद्र व्यवस्थापक पर कार्रवाई तत्काल की जाएगी।

इसके अलावा यदि नकल के लिए कोई अन्य भी जिम्मेदार पाया जाएगा तो उस पर भी कार्रवाई होगी। जिला विद्यालय निरीक्षक चंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि शिक्षामंत्री के निर्देशों के अनुसार ही परीक्षा नकल विहीन कराने की तैयारी की जा रही है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY