बाराबफात-जिले में शान से निकले जुलूस-ए-मोहम्म्दी

0
95

औरैया 2 दिसम्बर-इस्लाम धर्म के प्रबर्तक हजरत मोहम्मद साहब की पैदाईश (बाराबफात)शहर समेत पूरे जिले में अकीदत और मोहब्बत के साथ मनायी गयी। शहर के अलावा जिले में इस्लाम के सबसे बड़े मारकज कस्बा फफूंद में भी जुलूए-ए-मोहम्म्द निकाला गया। आस्ताना आलिया में हजारों मुस्लिमों ने जियारत की। शहर औरैया में शाह जमाल से निकला जुलूस-ए-मोहम्मदी संजय गेट से गुमटी मोहाल मार्केट, हलवाई खाना, सदर मार्केट होते हुए तहसील चौराहा पहुंचा यहां पर यमुना रोड होते हुए सुभाष चौक पर आया। सुभाष चौक पर इस्लाम धर्म के तमाम आलिमों के साथ शहर काजी आरिफ रहमानी ने जुलूस में शामिल लोगों को खिताब किया। अपने खिताब  में  उन्होंने कहा कि हजरत मोहम्मद साहब का सबसे बड़ा पैगाम मोहब्बत और भाईचारा है। इस्लाम में नफरत और तसुद्द की कोई गुंजाइश नहीं है। दूसरे आलिमों ने भी इस्लाम और मोहम्मद साहब के रसूलों से जनसामान्य को अवगत कराया। सुभाष चौक से यह जुलूस वापस शाहजमाल पहुंचकर एक जलसे के बाद विसर्जित हो गया।

कोई टिप्पणी नहीं है

कोई जवाब दें